बाइनरी ऑप्शंस

शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है

शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है
अगर आपके पास यह तीनों हैं तो आप शेयर मार्केट में निवेश करना शुरू कर सकते हो। लेकिन कैसे? आइये जानते हैं Step by Step प्रोसेस।

शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं, तो जरूरी है Demat Account होना, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

Share market क्या होता है? शेयर मार्केट में पैसा निवेश कैसे करें

पहले यह समझना जरूरी हैं कि Share Market क्या है और इसमें क्या होता हैं? Share Market को Stock Market या Equity Market भी कहा जाता हैं। यह वह जगह होती हैं जहाँ विभिन्न कंपनियों के शेयर्स खरीदने और बेचे जाते हैं।

लेकिन यह कोई सामान्य बाजार जैसा नहीं हैं, डिजटाइलेजशन के बाद तो बिल्कुल नहीं हैं। भारत मे मुख्य रूप से 2 शेयर मार्केट हैं, जो इस प्रकार हैं:

BSE : बीएसी का पूरा नाम मुंबई स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) है, जो भारत का सबसे पुराना आधिकारिक शेयर बाजार भी है। मुंबई स्टॉक एक्सचेंज की स्थापना 1875 में कई जा चुकी हैं।

NSE : एनएसी का फुल फॉर्म नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया (National Stock Exchange of India) हैं जिसकी स्थापना 1992 में हुई थी लेकिन इसमे ट्रेडिंग की शुरुआत 1994 में हुई थी।

शेयर बाजार कैसे काम करता हैं? How Share Market Works in Hindi?

अब क्योंकि आप समझ चुके हैं कि शेयर बाजार क्या है और इसमें क्या होता है तो आपका यह जानना भी जरूरी है कि शेयर शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है बाजार कैसे काम करता है?

सबसे पहले तो आपको यह जानना होगा कि किसी भी कम्पनी के शेयर या फिर कहा जाए तो स्टॉक कम्पनी की ओनरशिप इक्विटी को दर्शाते हैं।

अर्थात आप कम्पनी के जितने प्रतिशत शेयर के मालिक होंगे, आपका कम्पनी पर उतना ही अधिकार होगा। इसके अलावा कैपिटल गेन और डिविडेंट्स के रूप में कम्पनी की कॉरपोरेट इनकम पर भी शेयर होल्डर का अधिकार होता हैं।

शेयर बाजार में विभिन्न कम्पनियो के लिमिटेड स्टॉक्स लिस्टेड किये जाते हैं, जिनपर ट्रेडिंग की जाती हैं अर्थात उन्हें ख़रीदा और बेचा जाता हैं। शेयर बाजार की पूरी गणित डिमांड और सप्लाई के नियम पर आधारित हैं।

अगर डिमांड अधिक है और सप्लाई कम हैं तो शेयर की कीमत बढ़ती है और अगर डिमांड कम है और सप्लाई अधिक हैं तो शेयर की कीमत घटी हैं।

शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाते हैं? How to Earn Money from Share Market in Hindi

अब तक आप समझ चुके होंगे कि शेयर बाजार क्या है और यह कैसे काम करता है? तो अब बारी है शेयर बाजार से पैसे कमाने की प्रोसेस को समझने की। शेयर बाजार से पैसे कमाना बिल्कुल रियल एस्टेट से पैसे कमाने जैसा है।

रियल एस्टेट में आप कोई प्रॉपर्टी खरीदते हैं और विभिन्न कारणों से और इन्फ्लेशन के साथ उस शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है प्रॉपर्टी की कीमत बढ़ती है। जब आप उसे बेचते हैं तो आपको प्रॉफिट मिलता है और यह प्रॉफिट आपकी कमाई होती है।

जो आपको आपके इन्वेस्टमेंट से मिली है। लेकिन अगर आप गलत जगह पर अधिक कीमत में प्रॉपर्टी खरीदेंगे और उसे कम कीमत में बेचेंगे तो आपको लॉस होगा।

बिल्कुल ऐसा ही शेयर बाजार में भी होता है। डिमांड और सप्लाई की वजह से शेयर बाजार में शेयर की कीमत घटती और बढ़ती रहती है। जब भी किसी चीज की शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है कीमत घटती है तो उसमें निवेश करके अच्छा प्रॉफिट भी प्राप्त किया जा सकता है और लॉस होने की संभावनाएं भी रहती है।

शेयर मार्केट क्या है , शेयर मार्केट में निवेश कैसे करें ,

rahul prajapati


शेयर मार्केट

हेलो दोस्तों अक्सर आपलोगों के मनमे यह सवाल हमेशा रहता होगा की आखिर कार यह शेयर मार्केट क्या है और साथ ही साथ शेयर मार्केट से जुड़े ऐसे बहुत से सवाल उठ रहे होंगे की शेयर मार्केट में निवेश कैसे करें , या फीर बात हो शेयर कैसे चुने.

शेयर मार्केट क्या है?

Share Market Kya Hai या फिर Stock Market Kya Hota Hai विस्तार से जानते है , Share Market एक ऐसा Market होता है जहा पर बहुत सी Companies के share को बेचा और खरीदा जाता है जिससे की Share बेचने और खरीदने वाला प्रॉफिट कमाता है.

Share Market से बहुत लोग रातो रात करोड़ पती हो गए है वही Share Market से बहुत लोग रोड पती बन गए है कहने का मतलब यह है की Share Market से पैसे कमाया भी जा सकता है वही पैसे को गवाया भी जा सकता है.

Share Market में यदि आप किसी भी कंपनी का Share खरीदते है तो इसका मतलब यह है की आप उस कंपनी के हिसेदार बन गए है.

Share Market Kya Hai शेयर मार्केट क्या है जैसे की आप Share Bazaar में किसी भी कंपनी में 100 रुपये लगाते है तो आप उस कंपनी के उतने के मालिक हो जाते है.

Share Market में मुनाफा कैसे होता है जानते है जैसे की आपने जिस भी कंपनी से शेयर ख़रीदा है यदि भविष्य में उस कंपनी को लाभ हो रहा है तो आपको उस लाभ का पूरा फायदा मिलेगा, यदि उस कंपनी को नुकसान हो रहा है तो वह नुकसान आपका भी होगा.

Share Market में निवेश कैसे करे?

Share Market में पैसे कैसे लगाएं सबसे पहले शेयर मार्किट से शेयर खरीदने के लिए आपको एक Share Market में Account बनाना पड़ता है, Share Market Kya Hai इसमें जानेंगे

सबसे पहले आपको एक Demat Account खोलने की जरुरत होती है जिसमे Share के पैसे को रखा जाता है, यदि आप Share Market में निवेश करना चाहते है तो आपके पास Demat Account होना बहुत ही जरुरी है. Share Market में निवेश कैसे करे इसमें जानेगे।

Demat Account क्यों जरुरी है जानते है आप जिस भी कंपनी से शेयर को खरीदे है यदि उस कंपनी को भविष्य में लाभ हो रहा है तो आपको उस कंपनी से जिनते भी पैसे मिलेंगे वो सारे पैसे आपके Demat Account में जायेंगे और आप बाद में अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते है.

आपने सीखा की शेयर मार्केट क्या है और शेयर मार्किट में निवेश कैसे किया जाता है और साथ ही इस आर्टिकल में शेयर मार्किट क्या है इसके बारे में जाना है. इस पोस्ट को अपने दोस्तों तक सोशल मीडिया के जरिये शेयर करें

कौन खोलेगा डीमैट खाता

इंडिया में डीमैट खाता खोलने का काम दो संस्थाएं करती है. जिसमें पहली है शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है NSDL (National Securities Depository Limited) और दूसरी है CDSL (central securities depository limited). 500 से अधिक एजेंट्स इन depositories के लिए काम करते है, जिनको आम भाषा में डीपी भी कहा जाता है. इनका काम डीमैट अकाउंट खोलना होता है.

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी शर्त होती है कि जो व्यक्ति शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट खुलवा रहा हो उसकी उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए. साथ ही इसके लिए उस व्यक्ति के पास शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है पैन कार्ड, बैंक अकाउंट आइडेंटिटी और एड्रेस प्रूफ होना जरूरी है.

शेयर बाजार में रोज भिड़ते हैं ये 2 'जानवर', कभी होती है मोटी कमाई तो कभी लाखों करोड़ हो जाते हैं स्वाहा

शेयर बाजार में रोज भिड़ते हैं ये 2 'जानवर', कभी होती है मोटी कमाई तो कभी लाखों करोड़ हो जाते हैं स्वाहा

शेयर बाजार में हर रोज कई शेयर चढ़ते हैं तो कई गिरते हैं. इस उतार-चढ़ाव की वजह होती है शेयरों की लिवाली और बिकवाली. यानी हर रोज बुल और बीयर के बीच एक टकराव होता है.

शेयर बाजार (Share Market) में अक्सर आपको दो जानवरों के नाम सुनने को मिलते होंगे. पहला है बुल (Bull) यानी बैल और दूसरा है बीयर (Bear) यानी भालू. अगर आप शेयर बाजार में पैसे नहीं भी लगाते हैं तो हर्षद मेहता पर बनी वेब सीरीज 'स्कैम 1992' तो जरूर देखी होगी. इसमें भी बार-बार बुल और बीयर का जिक्र हुआ है. हर्षद मेहता को उस वक्त का बिग बुल (Big Bull) कहा जाता था. वहीं मनु भाई मुंद्रा को उस वक्त का बीयर कहा जाता था. ऐसे में बहुत से लोग ये नहीं समझ पाते हैं कि आखिर शेयर बाजार का बुल और बीयर से क्या लेना-देना.

पहले जानिए बुल के बारे में

बुल यानी बैल. ये शेयर बाजार के वो ट्रेडर होते शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है हैं, जिनका काम बाजार को ऊपर ले जाना होता है. इन्हें 'तेजड़िया' भी कहा जाता है. बैल से इनकी तुलना इसलिए की जाती है, क्योंकि बैल अपनी सींघ से हमला करते हुए शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है सामने वाले को ऊपर की तरफ उछालता है. यानी बुल वो होते हैं जो बाजार को ऊपर की तरफ उछालते हैं.

ये निवेशक शेयरों में निवेश करने का काम करते हैं, वो शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है भी लंबे वक्त के लिए. ये लंबा वक्त 2 साल से लेकर 10-20 साल तक आसानी से हो सकता है. भारत के बिग-बुल कहे जाने वाले राकेश झुनझुनवाला भी ऐसे ही निवेशक शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है थे. जब ये लोग शेयरों को लंबे वक्त के लिए खरीद लेते हैं तो बाजार शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है में उनकी मांग बढ़ती है, जिससे उनके दाम भी बढ़ते हैं. बशर्ते जिस कंपनी के शेयर खरीदे गए हैं, उसमें कोई दिक्कत ना हो वरना शेयरों में गिरावट आ जाती है. ये निवेशक खुद मुनाफा कमाने के साथ-साथ बाजार में भी तेजी बनाए रखने की कोशिश करते हैं. इसी वजह से इन्हें बुल कहा जाता है.

बीयर के बारे में भी जानिए

बीयर यानी भालू. ये शेयर बाजार के वो ट्रेडर होते हैं, जो बाजार को नीचे की तरफ धकेलने या शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है यूं कहें कि गिराने का काम करते हैं. बीयर से इनकी तुलना इसलिए की जाती है, क्योंकि वह अपने पंजे के नीचे की तरफ मारता है. ऐसे में सामने वाला नीचे गिरता है. इन्हें 'मंदोड़िया' भी कहते हैं.

जब भी अर्थव्यवस्था या शेयर बाजार या किसी खास कंपनी से जुड़ी कोई बुरी खबर आती है, तो बीयर कमाई करते हैं. वह कमाई के लिए शॉर्ट सेलिंग का सहारा लेते हैं, जिसके तहत पहले शेयर बेच दिए जाते हैं और फिर उन्हें खरीदा जाता है. इस तरह जो मार्जिन होता है, वह इन बीयर की कमाई होती है. बीयर का काम होता है कि वह बुरी खबरों को अधिक से अधिक हवा देते हैं. लोगों में एक डर पैदा करने की कोशिश होती है कि उनका भारी नुकसान शेयर मार्केट में निवेश कैसे किया जाता है होने वाला है. ऐसे में अधिकतर लोग शेयर बेचने लगते हैं और बाजार गिरने लगता है.

रेटिंग: 4.38
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 570
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *